Sunday ,18-Nov-18 ,
- 860211211      - padamparag@gmail.com
ताज़ा खबर

श्रेष्ठ कार्यप्रणालियाँ एवं नवाचार पर मंथन विषय पर एक दिवसीय राष्ट्रीय कार्यशाला सम्पन्न

padamparag.in

इंदौर, देश के विभिन्न राज्यों में स्थापित लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित की जाने वाली परीक्षाओं को और अधिक पारदर्शी तथा सुचितापूर्ण बनाने के संबंध में आज इंदौर में गहन विचार विमर्श किया गया। इसके लिये मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा आज होटल इन्फेनिटी में श्रेष्ठ कार्यप्रणालियाँ एवं नवाचार पर मंथन विषय पर राष्ट्रीय कार्यशाला आयोजित की गई। उक्त कार्यशाला में देश के आठ राज्यों के लोक सेवा आयोगों के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। कार्यशाला में मध्यप्रदेश सहित हिमाचल, त्रिपुरा, उड़ीसा, जम्मू तथा कश्मीर, मेघालय, छत्तीसगढ, सिक्किम तथा झारखण्ड के लोक सेवा आयोगों के परीक्षा नियंत्रक एवं प्रतिनिधि शामिल हुये। कार्यशाला की अध्यक्षता गुजरात लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष श्री दिनेश दासा द्वारा की गयी। कार्यशाला में सम्मिलित प्रतिभागियों का स्वागत करते हुए आयोग की सचिव श्रीमती रेनु पंत द्वारा आयोग की संक्षिप्त जानकारी, उपलब्धियों तथा वर्तमान मे आयोग द्वारा अपनायी जाने वाली श्रेष्ठ कार्यप्रणालियों की जानकारी दी गई। मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग के अध्यक्ष श्री भास्कर चौबे ने कार्यशाला के आयोजन के महत्व को रेखांकित करते हुए कहा कि सामूहिक मंथन में प्राप्त महत्वपूर्ण सार बिन्दुओं को अपनी कार्यप्रक्रिया में सम्मिलित किया जाना चाहिये। कार्यशाला को संबोधित करते हुए मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग के सदस्य श्री राजेश लाल मेहरा ने कार्यशाला के संदर्भ मे प्रस्तुत अपने बीज वक्तव्य में कार्यशाला के उददे’य को बताते हुए परीक्षा प्रणाली के विभिन्न अंगों यथा प्रश्न पत्र रचना, मॉडरेशन, परीक्षा आयोजन तथा मूल्यांकन एवं परिणाम निर्माण के महत्व के बारे मे जानकारी दी। उन्होंने परीक्षा प्रणाली के इन सभी चरणों मे अपनायी जाने वाली सावधानियाँ भी बतायी। कार्यशाला में विभिन्न लोक सेवा आयोगों के प्रतिनिधियों के चार समूह गठित कर विचार मंथन किया गया। कार्यशाला के द्वितीय सत्र में सभी समूहों द्वारा विचार मंथन से प्राप्त महत्वपूर्ण परिलब्धियों का प्रस्तुतिकरण किया गया। विभिन्न लोक सेवा आयोग में प्रचलित श्रेष्ठ कार्यप्रणालियों तथा नवाचार को अपनाते हुए परीक्षा प्रणाली में और अधिक पारदर्शिता लाने हेतु किये जा रहे उपायों पर भी कार्यशाला में चर्चा की गयी। कार्यशाला के अंत मे आयोग की उपसचिव श्रीमती कीर्ति खुरासिया ने आभार व्यक्त किया ।

Related Posts you may like

प्रमुख खबरें