Friday ,14-Dec-18 ,
- 860211211      - padamparag@gmail.com
ताज़ा खबर

लोकतांत्रिक परम्पराओं को बनाये रखने के लिए स्वतंत्र निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण मतदान करें

padamparag.in

डिण्डौरी । विधानसभा निर्वाचन 2018 में भारतीय दण्ड संहिता की धारा 171 ख के अनुसार, कोई व्यक्ति निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान किसी व्यक्ति को उसके निर्वाचक अधिकार का प्रयोग करने के लिए उत्प्रेरित करने के उद्देश्य से नगद या वस्तु रूप में कोई परितोषण देता है या लेता है तो वह एक वर्ष तक के कारावास या जुर्माने या दोनों से दण्डनीय होगा। जारी पत्र में बताया गया है कि भारतीय दण्ड संहिता की धारा 171 ग के अनुसार जो कोई व्यक्ति किसी अभ्यर्थी या निर्वाचक या किसी अन्य व्यक्ति को किसी प्रकार की चोट पहुंचाने की धमकी देता है वह एक वर्ष तक के कारावास या जुर्माने या दोनों से दण्डनीय है। उडनदस्ते, रिश्वत, देने वालों और लेने वालों दोनों के विरूद्ध मामले दर्ज कराने के लिए और ऐसे लोगों के विरूद्ध कार्यवाही करने के लिए गठित किये गए हैं। जो निर्वाचकों को डराने और धमकाने में लिप्त हैं। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री मोहित बुंदस ने सभी मतदाताओं से अनुरोध किया है कि वे किसी भी प्रकार की रिश्वत लेने से परहेज करें और यदि कोई व्यक्ति रिश्वत की पेशकश करता है या उसे रिश्वत और निर्वाचकों को डराने/धमकाने के मामलों की जानकारी है तो शिकायत प्राप्त करने के लिए जिला कार्यालय में स्थापित जांच प्रकोठ/कॉल सेंटर के टोल फ्री नम्बर 07644-234600 पर सूचित करें। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री बुंदस ने सभी मतदाताओं से अनुरोध किया है कि लोकतंत्र में अपनी पूर्ण आस्था रखते हुए यह संकल्प लें कि अपने देश की लोकतांत्रिक परम्पराओं की मर्यादा को बनाये रखेंगे तथा स्वतंत्र निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण निर्वाचन की गरिमा को अक्षुण रखते हुए निर्भीक होकर धर्म, जाति, भाषा अथवा अन्य किसी भी प्रलोभन से प्रभावित हुए बिना विधानसभा निर्वाचन 2018 में मताधिकार का प्रयोग करेंगे।

Related Posts you may like