Friday ,14-Dec-18 ,
- 860211211      - padamparag@gmail.com
ताज़ा खबर

आचार संहिता की वजह से 10 बजे बंद होने थे माइक, चौहान ने मोबाइल से संबोधित किया

padamparag.in

उज्जैन । मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की रविवार को माहिदपुर, नागदा, उन्हेल और उज्जैन में आम सभा को संबोधित किया। उज्जैन में आम सभा को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जनता से अपील की कि इस चुनाव को जनांदोलन बनाना है, तो वे भाजपा का सहयोग करें। उन्होंने कहा एक बात याद रखिए, चुनाव मैं नहीं, आप लड़ रहे हैं। इस लिए यह चुनाव मेरी नहीं आपकी प्रतिष्ठा का प्रश्न है। मुख्यमंत्री मंच तक पहुंचने में लेट हो रहे थे, दूसरी तरफ आचार संहिता लागू होने से रात 10 बजे माइक बंद करने जरूरी थे, इसलिए मुख्यमंत्री चौहान ने गाड़ी में बैठे-बैठे ही मोबाइल से भाषण देना शुरू कर दिया। उनका यह भाषण करीब 12 मिनट तक चला। मुख्यमंत्री 10 बजने में पांच मिनट पहले यानि 9 बजकर 50 मिनट पर मंच पर पहुंचे और सभा को संबोधित किया। आचारसंहिता के कारण समय का ध्यान रखते हुए मुख्यमंत्री 10 बजने से 5 मिनट पहले मालीपुरा स्थित मंच पर पहुंचे और महाकाल महाराज की जय करते हुए उन्होंने अपना भाषण शुरू किया। शिवराज ने कहा, महाकाल की कृपा के कारण ही मैं यहां पहुंच पाया हूं। आप बताओ कि कांग्रेस का राज होता तो क्या मैं सड़क मार्ग से यहां पहुंच पाता। कांग्रेस ने ऐसे खराब रोड बनवाए थे, रोड में गड्ढे गड्ढे थे, हमने मध्य प्रदेश को नए सिरे से सजाने संवारने की कोशिश की है। शिवराज ने कहा, यह नगरी महाकाल बाबा की है। इसको और बेहतर बनाना है। इसलिए उज्जैन वासियो मैं आप सब से प्रार्थना करने आया हूं। आप सबसे अपील करने आया हूं। आप सब अपना आशीर्वाद भारतीय जनता पार्टी को दीजिए। ताकि मैं मध्यप्रदेश को समृद्ध मध्यप्रदेश बना सकूं। मुख्यमंत्री चौहान आम जनता को जब संकल्प दिलाने की बात कही तो उस समय घड़ी में 10 बजने से कुछ समय पूर्व लाउडस्पीकर बंद हो गया। मुख्यमंत्री ने घड़ी दिखाते हुए कहा कि अभी 10 नहीं बजे हैं। इसके बाद फिर से लाउडस्पीकर चालू किया गया और मुख्यमंत्री ने अपना भाषण शुरू किया। शिवराज ने अपना उद्बोधन समाप्त किया और लाउडस्पीकर बंद हो गया।

Related Posts you may like