Sunday ,24-Mar-19 ,
- 860211211      - padamparag@gmail.com
ताज़ा खबर

ऑस्ट्रेलिया में छाये पुजारा और ऋषभ

padamparag.in

भारतीय बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने सिडनी में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले गये अंतिम क्रिकेट टेस्ट मैच में 193 रनों की शानदार पारी के साथ ही 90 साल पुराना एक रिकार्ड भी तोड़ दिया। पुजारा ऑस्ट्रेलिया में किसी सीरीज के दौरान सबसे ज्यादा गेंद खेलने वाले पहले मेहमान बल्लेबाज बन गए हैं। पुजारा ने अपनी 193 रन की पारी के दौरान यह उपलब्धि हासिल की। पुजारा ने अभी तक इस दौरे में 1258 गेंदें खेली हैं। ऑस्ट्रेलिया में सबसे ज्यादा गेंद खेलने वाले मेहमान बल्लेबाज के तौर पर पुजारा ने इंग्लैंड के हर्बट सटक्लिफ के 90 साल पुराने रेकॉर्ड को तोड़ा। सटक्लिफ ने 1928 की एशेज सीरीज के दौरान 4 मैचों की 7 पारियों में 1237 गेंदों का सामना किया था। तब उन्होंने इस सीरीज में 50.71 की औसत से एक शतक और दो अर्धशतकों की मदद से 355 रन बनाए थे। तब इंग्लैंड ने यह सीरीज 4-1 से जीती थी। चार मैचों की सीरीज में 2-1 की बढ़त बना चुकी टीम इंडिया को पुजारा की पारी ने बेहद अच्छी स्थिति में पहुंचा दिया है। पुजारा ने इस सीरीज में तीन शतक लगाये हैं। वह सीरीज में 30 घंटे से ज्यादा का समय क्रीज पर बिता चुके हैं जो 10 टी20 मैचों के बराबर है। अब तक इस सीरीज में 521 रन बना बनाने वाले पुजारा सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। वहीं अगर विदेशी दौरे पर एक सीरीज में सबसे ज्यादा गेंदें खेलने के रेकॉर्ड (सीरीज में चार या उससे कम मैच खेलने वाले खिलाड़ी) की बात करें तो भारत के राहुल द्रविड़ इस नंबर एक पर हैं। उन्होंने 2002 के इंग्लैंड दौरे पर 4 मैचों की 6 पारियों में 1336 गेंदें खेली थीं। इस दौरान उन्होंने 602 रन बनाए थे। इंग्लैंड के पूर्व कप्तान एलिस्टर कुक ने 2012-13 के भारत दौरे पर 4 टेस्ट मैचों की 8 पारियों में 1285 गेंद खेलकर 562 रन बनाए थे। पुजारा इस लिस्ट में तीसरे पायदान पर हैं। सटक्लिफ चौथे नंबर पर हैं। वेस्ट इंडीज के ब्रायन लारा ने 2001-02 में श्री लंका दौरे पर तीन टेस्ट मैचों में 1226 गेंदों का सामना करते हुए 688 रन बनाए थे। पुजारा ने इस सीरीज में कई भारतीय बल्लेबाजों को भी पीछे छोड़ा। भारत की ओर से यह रेकॉर्ड राहुल द्रविड़ के नाम था। द्रविड़ ने 2003-2004 की बॉर्डर-गावसकर सीरीज में 1203 गेंदों का सामना किया था। द्रविड़ के बाद विराट कोहली (1093) और वीवीएस लक्ष्मण (906) का नंबर आता है। इतना ही नहीं पुजारा ने इस सीरीज में 500 रनों का आंकड़ा भी पार किया। वह ऑस्ट्रेलिया में किसी टेस्ट सीरीज में 500 से ज्यादा रन बनाने वाले तीसरे भारतीय बल्लेबाज हैं। भारत की ओर से ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाने का रेकॉर्ड विराट कोहली के नाम है। कोहली ने 2014-15 में 692 रन बनाए थे। वहीं राहुल द्रविड़ ने 2003-04 के दौरे में 619 रन बनाए थे। ऋषभ विदेशी धरती पर सबसे ज्यादा रन बनाने वाले भारतीय विकेटकीपर बने सिडनी टेस्ट में भारत के विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत ने भी अपने करियर का दूसरा शतक लगाकर एक नई उपलब्धि हासिल की है। इस पारी के साथ ही ऋषभ ने इसके साथ ही भारत से बाहर सबसे ज्यादा रन बनाने के मामले में विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी को भी पीछे छोड़ दिया है। धोनी ने साल 2006 पाकिस्तान में फैसलाबाद टेस्ट के दौरान 148 रन बनाए थे। लेकिन ऋषभ ने नाबाद 159 रन बनाकर उन्हें पीछे छोड़ दिया। इसके अलावा ऋषभ ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड दोनों देशों में शतक लगाने वाले भारत के पहले विकेटकीपर बल्लेबाज़ बन गए हैं। ऋषभ ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड इन दोनों देशों में शतक जमाने वाले दुनिया के दूसरे विकेटकीपर बन गए हैं। उनसे पहले ये काम वेस्टइंडीज के जेफ्री डू जॉन ने किया था। डू जॉन ने मैनचेस्टर और पर्थ में 1984 में शतक जमाए थे। ऋषभ ने इंग्लैंड के खिलाफ ओवल में भी शतक लगाया था। ऋषभ के लिए ये शतक इसलिए भी खास है, क्योंकि ये कंगारुओं की धरती पर उनका पहला शतक है। इससे पहले ऑस्ट्रेलिया में उनका सर्वाधिक स्कोर 39 रन था। ये स्कोर उन्होंने मेलबर्न में खेले गए तीसरे टेस्ट मैच की पहली पारी में इसके अलावा सबसे कम उम्र में भारत की ओर से ऑस्ट्रेलिया में शतक जड़ने के मामले में ऋषभ तीसरे नंबर पर आ

Related Posts you may like

प्रमुख खबरें