Sunday ,20-Jan-19 ,
- 860211211      - padamparag@gmail.com
ताज़ा खबर

आयुर्वेदिक उपायों से आएगी अच्छी नींद

padamparag.in

हमारा शरीर तीन उपस्तम्भ पर आधारित हैं - आहारः स्वपनो ब्रह्मचर्यमिति ! यानि इन तीनो उपस्तम्भों का युक्तिपूर्वक सेवन करने से यह शरीर उपस्तब्ध (स्थिर) होकर जब तक संस्कारित रहता हैं तब तक वह बल ,वर्ण ,उपचय से उपचित होकर उचित रूप से रहता हैं ,अहित वस्तुओं का सेवन न करना संस्कार हैं। यदि प्राणी नियमित रूप से अपने सभी कार्य करते हुए यथाकाल उचित ूप से निद्रा का सेवन न करे तो स्वास्थ्य की हानि और मृत्यु तक भी संभव हैं। क्योकि कार्य करने के बाद शारीरिक यंत्रों को विश्राम देने के लिए निद्रा की अत्यंत आवश्यकता हैं। निद्रायत्तन सुखम दुखम पुष्टिः कार्श्य बलाबलम! सुखायुषी परा कुर्यात कालरात्रि रिवापरा! निद्रा न सेवन करने से शारीरिक यंत्रों को विश्राम नहीं मिलता ,परिणामस्वरूप अनेक रोग उतपन्न हो जाते हैं। इसीलिए निद्रा को उपस्तम्भ कहा गया हैं। जब शरीर को स्वास्थ्य और संतुलन बनाए रखने की बात आती है तो आहार की तरह नींद भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। नींद महर्षि आयुर्वेद के मौलिक मुख्यधारा में से एक है। अत्यधिक तनाव के कारण लोग स्वाभाविक नींद को भूलते जा रहे हैं और दवाइयों के सहारे सोने का प्रयास करते हैं। यदि आप दवाइयों के सहारे नींद लेने का प्रयास करेंगे तो इससे आपकी सेहत भी प्रभावित होगी। इसलिए अच्छी नींद के लिए आयुर्वेदिक उपाय के बारे सोचना चाहिए। दूध ट्रीप्टोफन का एक बड़ा स्रोत है, जो नींद लाने में मदद करता है। बेहतर नींद के लिए आप एक चौथाई चम्मच जायफल के साथ एक गिलास गर्म दूध पीजिए। आपको बता दें कि दूध का सेवन दिन में किया जाए तो यह हमें दिनभर उर्जा देता है और रात में लिया जाए तो यह दिमाग को शांत करके अच्छी नींद लाने में सहायता करता है। ऐसा माना जाता है सोने से पहले कुछ मिनट मालिश कर लेने से अच्छी नींद आती है। तेल मालिश तंत्रिका तंत्र को शांत करने का एक शानदार तरीका है, और इस प्रकार, यह नींद लाने में भी मदद करता है। सिर पर मालिश करना अच्छी नींद को सुविधाजनक बनाने में मदद करता है। इसलिए बिस्तर पर जाने से पहले अपने सिर पर एक या दो बूंद तेल डालें और अच्छी तरह से मालिश करें। गहरी नींद की आयुर्वेदिक दवा के रूप में ध्यान भी काम करता है। आपको बता दें कि ध्यान का स्वास्थ्य लाभ बहुत हैं। यह आपके शरीर के समग्र स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए अच्छा है। बिस्तर पर जाने से पहले 10-15 मिनट ध्यान को दें। यह आपके शरीर को आराम पहुंचाएगा और एक अच्छी नींद लाने में मदद करेगा। यदि पर्याप्त नींद नहीं आ रही है, तो योग इसमें आपकी मदद करेगा। योग का अभ्यास, विशेष रूप से प्राणायाम, मन को शांत करने और शरीर और तंत्रिका तंत्र को आराम करने के लिए बहुत फायदेमंद माना जाता है। सरल श्वास अभ्यास भी नींद को प्रेरित करने में मदद करेगा।

Related Posts you may like