Thursday ,18-Apr-19 ,
- 860211211      - padamparag@gmail.com
ताज़ा खबर

कई तरह की बीमारियां होती हैं दूर

padamparag.in

प्याज का सेवन सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है। इसमें एंटी-इंफ्लेमेट्री गुणों के अलावा एंटी-एलर्जिक, एंटी-ऑक्सीडेंट और एंटी-कार्सिनोजेनिक गुण भी होते हैं। इससे कई तरह की बीमारियां दूर होती हैं इसलिए ये भी कहा जाता है कि प्याज खाने से इंसान की उम्र बढ़ती है। प्याज समय से पहले होने वाली झुरियों को भी कम करता है। त्वचा को जवान और स्वस्थ रखता है। वीर्यवृद्धि के लिए सफेद प्याज के रस के साथ शहद लेने पर फायदा होता है। सफेद प्याज का रस, शहद, अदरक का रस और घी का मिश्रण 21 दिनों तक लगातार लेने से नपुंसकता दूर हो जाती है। प्याज को पीसकर गुड़ मिलाकर खाने से वीर्य वृद्धि होती है। डायबिटीज के मरीजों के लिए भी कच्चा प्याज खाना फायदेमंद होता है, इसे खाने से शरीर में इंसुलिन पैदा होता हैं। प्याज रक्त में शक्कर की मात्रा को नियंत्रित करता है। इसके अलावा रोजाना प्याज खाने से खून की कमी दूर होती है। सर्दी, जुकाम और कफ की समस्या में प्याज का रस शहद या गुड़ के साथ पीने से गले को आराम मिलता है। यह गले की खराश को भी दूर करता है। कफ हो जाने पर प्याज के रस में मिश्री मिलाकर चाटने से फायदा मिलता है। गठिया के पीडि़तों के लिए प्याज फायदेमंद है, ऑस्टियोपोरोसिस और अथेरोससरोसिस में भी प्याज का इस्तेमाल लाभप्रद है। इसके लिए 3 चम्मच प्याज के रस में 4 चम्मच पानी, 1 चम्मच नींबू का रस, और स्वादानुसार नमक का मिश्रण बनाकर दिन में एक बार सेवन करने से फायदा होगा। यह बालों को झड़ने से रोकता है और बालों की जड़ों के लिए भी बहुत उपयोगी है। प्याज कोलेस्ट्रॉल को भी काबू में रखता है और दिल को बीमारियों से बचाता है। मासिकधर्म में होने वाली समस्याओं में प्याज का उपयोग बेहतर होता हैं। इसलिए चक्र के शुरू होने से पहले कच्चा प्याज का सेवन करना लाभ प्रद है। श्वेत प्रदर के रोग में भी प्याज लाभकारी है। प्याज के रस में शहद बराबर मात्रा में यानी 2:2 चम्मच लें और इसका मिश्रण बनाकर सेवन करने से लाभ होता है।सब्जी और सलाद का स्वाद बढ़ाने वाला प्याज गुणों की खान है।

Related Posts you may like

प्रमुख खबरें