Friday ,22-Feb-19 ,
- 860211211      - padamparag@gmail.com
ताज़ा खबर

दिल्ली मेट्रो में अब टोकन और स्मार्टकार्ड के नहीं होगी यात्रियों को जरुरत

padamparag.in

नई दिल्ली । दिल्ली मेट्रो में सफर करने के लिए यात्रियों को टोकन और स्मार्टकार्ड की जरूरत पड़ती है। टोकन और स्मार्ट कार्ड बनाने की यात्रियों को लंबी लाइन में लगाना होता है। यात्रियों की इन्ही दिक्कतों को देखते हुए दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन ने एक ऐसी तकनीक खोजी है जिससे यात्री बिना टोकन और स्मार्ट कार्ड के भी मेट्रो में आसानी से यात्रा कर पाएंगे। डीएमआरसी किराया भुगतान को आसान बनाने के लिए सभी मेट्रो स्टोशनों पर बायोमेट्रिक आधिरित फेयर कलेक्शन गेट लगाने की तैयारी कर रहा है। इससे यात्रियों को मेट्रो में सफर करने के लिए सिर्फ फिंगर पंच करनी होगी। डीएमआरसी ने अपनी इस बड़ी योजना की पुष्टि की हैं लेकिन अधिक जानकारी देने से इंकार किया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस योजना में 14.51 करोड़ की लागत से सभी मेट्रो स्टेशनों में बायोमेट्रिक आधारित फेयर कलेक्शन गेट लगाए जाएंगे। डीएमआरसी ने इन फेयर कलेक्शन गेट लगाने के लिए एजेंसियों की तलाश शुरू कर दी है। इन गेट्स पर अंगुलियों से पंच कर, टोकन और स्मार्ट कार्ड तीनों से किराया भुगतान की सुविधा होगी। मौजूदा समय में दिल्ली मेट्रो में 236 मेट्रो स्टेशन हैं। इन सभी स्टेशनों पर ऑटोमेटिक फेयर कलेक्शन (एएफसी) गेट लगाए गए हैं। आने वाले दिनों में दिल्ली मेट्रो के एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन पर भी बायोमीट्रिक सिस्टम से किराया भुगतान का नया विकल्प मिलेगा। बता दें कि दिल्ली मेट्रो में सफर करने वालें 70 फीसदी यात्री स्मार्ट कार्ड व 30 फीसद यात्री टोकन का इस्तेमाल करते हैं। मेट्रो में सफर करने वाले यात्रियों को कई स्टेशनों पर टोकन के लिए लंबी लाइनों में खड़ा होना पड़ता है। वैसे तो स्मार्ट कार्ड ऑनलाइन रिचार्ज कराने की सुविधा है, फिर भी कई स्टेशनों पर स्मार्ट कार्ड रिचार्ज कराने में यात्रियों को 10 से 15 मिनट समय लग जाता है।

Related Posts you may like

प्रमुख खबरें

padamparag.com