Monday ,25-Mar-19 ,
- 860211211      - padamparag@gmail.com
ताज़ा खबर

लिव-इन रिलेशनशिप में रहने से रखें ये ध्यान

padamparag.in

कई शहरों में आजकल लिव-इन रिलेशनशिप का चलन बढ़ा है। लिव-इन रिलेशनशिप उसे कहते हैं जब एक वयस्क लड़का और लड़की आपसी सहमति से, बिना शादी किए पति-पत्नी की तरह रहते हैं।ज्यादातर लोगों के लिए लिव-इन रिलेशनशिप अपने रिश्तों को समझने और परखने का अच्छा तरीका है। वहीं कुछ लोग लिव-इन में सिर्फ टाइमपास और अपनी इच्छाओं की पूर्ति के लिए रहते हैं। आइये जानते हैं कि लिव-इन रिलेशन में रहने से पहले आपको किन बातों का ध्यान रखना जरूरी है। दोस्ती के बाद ही लिव-इन रिलेशनशिप अपनायें लिव-इन में रहने से पहले आपको अपने पार्टनर को अच्छी तरह से जान लेना चाहिए। उसके सेंटीमेंट्स और मूड के बारे में आपको पहले से जानकारी होना जरूरी है। इसके अलावा जरूरी है कि आप लोगों नें पहले कुछ समय साथ रहकर दोस्त के रूप में गुजारा हो। लड़कियों को खासकर इस मामले में सावधान रहना चाहिए। अपने पार्टनर के प्यार और उसके एहसास को अच्छी तरह परख लें। अगर थोड़ा भी संदेह हो तो ऐसे रिश्ते से बचें और पार्टनर को थोड़ा और समय दें। रिश्तों में कभी-कभार थोड़ी बहुत अनबन हो जाना आम बात है। इससे आपके रिश्तों में ताजगी आती है और रिश्ता मजबूत बनता है। लिव-इन रिलेशन में भी ऐसी अनबन हो सकती हैं। ऐसे में कई बार आप थोड़ी सी नाराजगी में बहुत गलत बात कह जाते हैं, जो आपके पार्टनर को बुरी लग सकती हैं। जैसे- अपने घर चले जाओ या अलग हो जाओ या मुझे तुम्हारी जरूरत नहीं आदि। नाराजगी के समय याद रखें कि सामने वाले शख्स को आप पर पूरा भरोसा था तभी वो आपके साथ ऐसे रिश्ते में आने के लिए राजी हुआ है। खर्चों के मैनेजमेंट को लेकर बात करें आजकल मंहगाई इतनी बढ़ गई है कि किसी शहर में दो लोगों को अच्छी जीवनशैली के लिए पर्याप्त पैसा जुटाना कई बार एक अकेले इंसान के लिए भारी पड़ सकता है। इसलिए अगर आप लिव-इन रिलेशनशिप में रहने वाले हैं तो अपने पार्टनर से खर्चों के बंटवारे को लेकर पहले ही साफ-साफ बात कर लें और इसका एक खाका बना लें। अक्सर पार्टनर्स के बीच पैसों को लेकर अनबन शुरू होती है जो रिश्ते टूटने के कगार तक पहुंच जाती है। अगर आप अपने पार्टनर को समझने और जानने के लिए लिव-इन रिलेशनशिप का रास्ता चुन रहे हैं तो आपको मानसिक और भावनात्मक तौर पर मजबूत होना चाहिए। कई बार आपको पार्टनर की कोई आदत पसंद नहीं आती या आपकी कोई आदत उन्हें नहीं पसंद आती, तो आपसी बातचीत से इन मुद्दों का हल निकालना चाहिए। इसके अलावा आपको कई बार कुछ बातें अपनी समझदारी से इग्नोर करनी पड़ सकती हैं। ऐसी स्थिति में आपका दिमागी रुप से मजबूत होना जरूरी है। गलत होने पर अलग होने को रहें तैयार अगर आप लिव-इन में रहते हैं लेकिन आपके पार्टनर से आपका रिश्ता अच्छी तरह नहीं निभ रहा है या आपके पार्टनर आपकी भावनाओं के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं तो हमेशा अपनी बात कहने की हिम्मत और हौसला रखिये। इसके अलावा कई बार कुछ लोग रिश्तों में आने के बाद बदल जाते हैं या वो आपको किसी गलत काम के लिए मजबूर करते हैं तो हमेशा अलग होने के लिए तैयार रहें।

Related Posts you may like

प्रमुख खबरें