Saturday ,23-Mar-19 ,
- 860211211      - padamparag@gmail.com
ताज़ा खबर

यौन शोषण के जुर्म में काॅलेज संचालक को दस वर्ष की कैद

padamparag.in

जींद, । अतिरिक्त जिला एवं सत्र न्यायाधीश अमृत सिंह चालिया की अदालत ने छात्रा का यौन शोषण कर उसे आत्महत्या के लिए मजबूर करने के जुर्म में निजी एएनएम-जीएनएम कालेज संचालक को 10 वर्ष की कैद तथा 16 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई है। जुर्माना न भरने की सूरत में दोषी को आठ माह का कारावास भुगतना होगा। सदर थाना के अंतर्गत आने वाले गांव की निजी एएनएम-जीएनएम कॉलेज में कार्यरत युवती की 17 जुलाई 2016 को जहर के प्रभाव से शहर के निजी अस्पताल में उपचार के लिए लाया गया था। पुलिस ने बेसुध छात्रा के पास से छह पेज का एक नोट बरामद किया था, जिसमें काॅलेज संचालक गांव हंसावास कलां (भिवानी) निवासी मनदीप पर यौन शोषण करने और ब्लैकमेल करने के आरोप लगाए गए थे। युवती द्वारा लिखे गए नोट में बताया गया था कि पिछले डेढ़ वर्षों से वह रेलवे रोड पर एसएस नर्सिंग कॉलेज में पढ़ने के साथ-साथ कार्य करती रही है। कॉलेज संचालक भिवानी निवासी मनदीप ने उसे शादी का झांसा देकर उसके साथ अवैध संबंध स्थापित कर लिए और उसकी अश्लील फिल्म बना ली, जिसके आधार पर वह उसे लगातार ब्लैकमेल करता रहा और उसका यौन शोषण भी करता रहा। अब पिछले कई दिनों से मनदीप कॉलेज छोड़ कर दूसरी जगह चला गया। मनदीप कुछ दिनों तक उसके संपर्क में रहा और फोन पर बातचीत भी करता रहा। बाद में उसने शादी से मना कर दिया और शिकायत करने पर उसके वीडियो को इंटरनेट पर सार्वजनिक करने की धमकी दी। महिला थाना पुलिस ने युवती के बयान पर गांव हंसावास कलां (भिवानी) निवासी मनदीप के खिलाफ यौन शोषण करने, आत्महत्या के लिए मजबूर करने तथा जान से मारने की धमकी देने का मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया था। तभी से मामला अदालत में विचाराधीन था।

Related Posts you may like

प्रमुख खबरें