Friday ,27-Nov-20 ,
- 860211211      - padamparag@gmail.com
ताज़ा खबर

यूपीईएस ने बी.टेक और बी.फार्मेसी प्रोग्राम्स की प्रवेश परीक्षाएं रद्द कीं; एडमिशन बोर्ड की 12वीं कक्षा के अंकों के आधार पर होंगे।

padamparag.in

जयपुर : भारत की प्रमुख बहुविषयक एवं विशेषज्ञता केन्द्रित यूनिवर्सिटी यूपीईएस ने आज घोषणा की है कि यूपीईएसईएटी 2020 (इंजिनियरिंग एप्टिट्यूड टेस्ट) और यूपीईएसपीएटी 2020 (फार्मेसी एप्टिट्यूड टेस्ट) स्टैण्ड्स रद्द किये जा चुके हैं। यह निर्णय महामारी की स्थिति और स्टूडेन्ट्स तथा पैरेन्ट्स की सुरक्षा को ध्यान में रखकर लिया गया है। यूनिवर्सिटी ने एडमिशन के लिये नये दिशा-निर्देश भी जारी किये हैं, जिनके अनुसार शैक्षणिक वर्ष 2020 के लिये बी.टेक. और बी.फार्मा प्रोग्राम्स के लिये एडमिशन केन्द्र या राज्‍य बोर्ड की 12वीं कक्षा के परिणामों के आधार पर होंगे। इस बारे में यूपीईएस के वाइस-चांसलर डॉ. सुनील राय ने कहा, ‘‘स्टूडेन्ट्स और पैरेन्ट्स की सेहत हमारी प्रमुख चिंता है। इसलिये हमने इस वर्ष यूपीईएसईएटी और यूपीईएसपीएटी को रद्द करने का फैसला किया है। हालांकि, हम एडमिशन की प्रक्रिया जारी रखेंगे और इसके लिये हमने अपनी पॉलिसीज में कुछ बदलाव किये हैं, ताकि एनरोलमेन्ट्स मेरिट के आधार पर हों। आवेदक https://admission.upes.ac.in/apply पर लॉग इन कर ऑनलाइन चयन प्रक्रिया के लिये ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। कोई प्रश्न हो या स्पष्टीकरण चाहिये, तो वे टोल-फ्री नंबर 18001028737 पर कॉल कर सकते हैं या enrollments@upes.ac.in पर ईमेल भेज सकते हैं। चयन प्रक्रिया के अंत में स्टूडेन्ट्स https://bit.ly/UPESBtech2020 पर अपने परिणाम देख सकते हैं। यूपीईएस की शैक्षणिक, प्लेसमेन्ट और एडमिशन टीमें स्टूडेन्ट्स की ऑनलाइन काउंसलिंग करेंगी, ताकि वे अपनी उच्च शिक्षा और कॅरियर के सम्बंध में उचित निर्णय ले सकें। छात्राओं के लिये 25 प्रतिशत छात्रवृत्ति अधिक से अधिक छात्राओं को कक्षा 12 के बाद उच्च शिक्षा जारी रखने के लिये प्रोत्साहित करने हेतु यूपीईएस उन्हें प्रोग्राम की पूरी अवधि के दौरान ट्यूशन शुल्क पर 25 प्रतिशत छात्रवृत्ति प्रदान कर रहा है। शैक्षणिक वर्ष 2020 में अंडर-ग्रेजुएट और पोस्ट-ग्रेजुएट कोर्सेज के लिये आवेदन करने वाली छात्राएं इस छात्रवृत्ति को प्राप्त कर सकती हैं।

Related Posts you may like

प्रमुख खबरें